Bank Reconciliation Statement in Hindi, Tally में बैंक Reconciliation कैसे करे

अगर आप Tally में कार्य करते हैं, तो आपको निश्चित तौर पर BRS : Bank Reconciliation Statement in hindi क्या है और Tally में बैंक Reconciliation कैसे करे का जानकारी होना बहुत ही आवश्यक है, क्योंकि इसके बिना हम Tally ERP 9 और Tally Prime में अच्छे से कार्य नहीं कर पाएंगे और हमारा कार्य पूर्ण नहीं हो पाएगा इसलिए आज हम आपको Bank Reconciliation in Tally : BRS | Tally में बैंक Reconciliation कैसे करे की जानकारी देने वाले है.

Bank Reconciliation in Tally
Bank Reconciliation in Tally

Bank Reconciliation in Tally क्या है?

Bank Reconciliation in Tally का आशय यह है कि हमारे व्यवसाय और व्यापार में होने वाले Bank Book और Cash Book संबंधी लेनदेन में वास्तविक रुप से मिलान करने के लिए किया जाता है, Bank Book और Cash Book मे जो Difference Amount होता है उसका समाधान (Reconcile) करने के लिए Tally में Bank Reconciliation किया जाता है.

यह एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है जिसे हमें वित्तीय वर्ष के Quarter, Half Quarter में रिपोर्ट तैयार करने से पहले कर लेनी चाहिए तभी जाकर हमारा Accounting Job पूर्ण होगा.

Bank Reconciliation Statement in Hindi (BRS) से क्या आशय है?

Bank Reconciliation Statement in Hindi : बैंक समाधान विवरण, BRS जिसका पूरा नाम Bank Reconciliation Statement है, जिसका उपयोग बैंक संबंधित लेनदेन होने पर Passbook के द्वारा वास्तविक रूप में पैसों का Transaction हुआ है नहीं चेक किया जा सकता है अर्थात जिस दिन बैंक लेनदेन हुआ है लेकिन वास्तविक रूप में अकाउंट में इसका राशी लेनदेन कब हुआ, इसका Report Bank Reconciliation Statement के द्वारा तैयार जाता है.

Bank Reconciliation Statement करने के लिए Tally के Display Menu में जाइए उसके बाद अकाउंट्स बुक सेक्शन के अंतर्गत लेजर विकल्प दिखाई देगा जहां पर हमें बैंक लेजर को सेलेक्ट करना है सेलेक्ट करने पर राइट साइड Reconciliation का ऑप्शन दिखाई देगा जिसके माध्यम से हम बैंक Reconciliation कर सकते हैं

Bank Reconciliation in Tally : BRS | Tally में बैंक Reconciliation कैसे करे

Tally ERP 9 और Tally Prime मैं बैंक रिकॉन्सिलिएशन करना बहुत ही आसान है इसके लिए हमें निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा –

1. Goto Gateway of Tally

Tally में Bank Reconciliation करने के लिए सबसे पहले हमें टैली के Gateway ले जाना होगा.

2. Select Display Menu

गेटवे ऑफ़ टैली में आने के बाद Display Menu पर जाएं.

Gateway of Tally

3. Click on Accounts Books

Display Menu मैं जाने के बाद Account Book विकल्प पर क्लिक करें.

Display Menu

4. Now Click on Ledger for Bank Reconciliation in Tally

अब हमें Ledger पर जाना होगा.

Accounts Books

5. Select Bank Ledger for Bank Reconciliation in Tally

Ledger पर जाने के बाद हमें Name of Ledger के अंतर्गत List of Ledger दिखाई दे रहा है जिसमें से हमें अपने Bank Account Ledger पर क्लिक करना है, यहां पर एक से अधिक बैंक अकाउंट हो सकता है तो आपको यहां पर जिस बैंक का Bank Reconcile करना है उसका चयन करें.

5. Finally Click on Reconciliation option.

जैसे ही आप Bank Account का चयन करेंगे आपको Ledger Voucher का स्क्रीन दिखाई देगा जिसमें आपके द्वारा किए गए Transaction दिखाई देगा जिसमें से Transaction पर क्लिक करके Shortcut Keys F8 या राइट साइड पर उपस्थित Reconcile ऑप्शन का चयन करके हम BRS : Bank Reconcile कर सकते है.

 Bank Reconciliation in Tally
Bank Reconciliation in Tally

उपरोक्त बताए गए जानकारी के अनुसार आप Tally ERP 9 or Tally Prime बैंक रिकॉन्सिलिएशन कर सकते हैं, जैसे कि आप नीचे पिक्चर में देख पा रहे हैं जैसे ही हम किसी भी लेनदेन पर सेलेक्ट करके Reconcile विकल्प पर क्लिक करते हैं तो हमें Bank Date की जानकारी मांगता है यहां पर समझने वाली बात यह है की Bank Date वह डेट है जिस Date में वास्तविक रुप से हमारा Account से राशि Debit या Credit हुआ है.

 Bank Reconciliation in Tally
Bank Reconciliation in Tally

Bank Reconciliation कैसे तैयार करें?

Bank Reconciliation Statement तैयार करने के लिए हमारे पास इन दो चीजों का होना बहुत ही ज्यादा अनिवार्य है इसके बिना हम BRS बैंक समाधान विवरण तैयार नहीं कर सकते है –

  1. Cash book और
  2. Pass book की Entries

Bank Reconciliation क्यों करें?

Bank Reconciliation statement in hindi क्यों करें, इसका उत्तर यह है कि जब हम अपने व्यापार, व्यवसाय मैं बैंक संबंधी लेनदेन करते हैं तो कई बार हम अपने Tally से राशि डेबिट कर देते हैं, लेकिन हमारे बैंक अकाउंट से उस दिनांक में राशि डेबिट नहीं होता है क्योंकि हमारे ग्राहक या व्यापारी जिसे हमने चेक भुगतान किया है उसे वह अपने इच्छा अनुसार 2 से 4 दिनों के अंतराल में जमा करता है इस प्रकार Cash Book में और Bank Book में दोनों में अंतर दिखाई देता है जिसे दूर करने के लिए Bank Reconciliation किया जाता है.

S.No.Subject / Topic
1Tally क्या है टैली के विभिन version?
What is tally and Version of Tally?

How to use Tally ERP 9?
3Downloading and Installation of Tally ERP 9 Notes
4Basic Accounting Terms – Tally ERP 9
5How to Create Company in Tally ERP 9 Notes
Delete Company, Alter Company और Select Company
6What is Ledger and how to create in tally Tally ERP 9 Notes?
7टैली में ledger group क्या है एवं टैली में group कैसे तैयार करे सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.
8Mode of Accounting – Tally ERP 9 Notes / Prime
9Basic Accounting – Personal A/C, Real A/c, Nominal A/c
10Golden Rules of Accounting – Basic Accouting की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.
11Accounting Vouchers in Tally ERP 9 Notes
12Inventory Voucher – Tally ERP 9 Notes
13Golden Rules of Voucher Entry
14Stock Management  or Inventory Management – Tally ERP 9 Notes
15Tax Management in Tally — Tally ERP 9 Notes –
GST Goods and Service Tax (गुड्स एवं सर्विस टैक्स)
16Tally Shortcut Keys – Tally ERP 9 Notes
17Reports – Profit & Loss A/C, Balance Sheet, Stock, Trial Balance sheet, DayBook
18Backup and Restore in tally ERP 9 Notes in hindi – Tally Prime
19Printing in tally – Print Setup
20Setting in tally – F11 and F12
21Provision क्या है, Provision Entry in Tally.
22Tally erp 9 Practice Book pdf free Download hindi
10

दोस्तों आपको यह Bank Reconciliation in Tally जानकारी कैसा लगा, आप हमें निचे कमेंट करके जरुर बताये और आप हमारे वेबसाइट को Home पेज में जा कर सब्सक्राइब कर सकते है और आप हमारे Telegram Channel में भी जुड़े जिससे आपको लेटेस्ट Notification मिलता रहेगा साथ ही साथ आप इसे WhatsApp, Facebook सोशल मीडिया प्लेटफार्म में शेयर कर सकते है.

Leave a Comment