Udyog Aadhar Registration, Print, Update Online करें

अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे

Udyog Aadhar Registration, Print, Update Online करें

Udyog Aadhar – उद्योग आधार को उद्योग के आधार रूप में भी जाना जाता है। यह सभी लघु और मध्यम उद्योगों और लघु उद्योगों के लिए MSME मंत्रालय द्वारा जारी एक यूनिक 12 अंकीय विशिष्ट पहचान संख्या (UIN) सरकारी पहचान संख्या है।  जो छोटे व्यवसाय क्षेत्र के लिए पंजीकरण प्रक्रिया को आसान बनाता है। उद्योग मंत्रालय भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (MSME) द्वारा दिया जाता है

    Udyog aadhar योजना सितंबर 2015 के महीने में शुरू की गई थी। उद्योग आधार का official website www.udyogaadhaar.gov.in है।
 

Udyog Aadhar registration different from the MSME registration –

उद्योग आधार पंजीकरण और एमएसएमई पंजीकरण में कोई अंतर नहीं है। उद्योग आधार पंजीकरण को पहले एमएसएमई पंजीकरण के रूप में जाना जाता था।

Udyog Aadhar Eligibility –

विनिर्माण या सर्विसिंग क्षेत्र से संबंधित सभी छोटे, मध्यम और सूक्ष्म उद्यम उद्योग आधार के तहत पंजीकरण के लिए पात्र हैं

Udyog Aadhar/MSME Certificate Sample

 
ये भी जाने :- प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना में पाए 1 से 25 लाख का लोन, 35 प्रतिशत अनुदान के साथ, आवेदन पत्र एवं सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करे।

Features and Benefits of Udyog Aadhar

उद्योग आधार की मुख्य विशेषताओं  –

1. नि: शुल्क और परेशानी मुक्त पंजीकरण प्रक्रिया।

2. दस्तावेजों को प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं है।

3. एक से अधिक उद्योग आधार फाइल करने की क्षमता।

4. स्व-घोषणा की सुविधा उपलब्ध है।

 
Online Aadhaar Udyog रजिस्ट्रेशन के लिए नीचे क्लिक करे लेकिन उसमे पहले निचे दिए निचे दिए गए प्रोसेस प्रक्रिया को जान ले –

Online Aadhar Udyog Registraton Click Here

ऑनलाइन उद्योग आधार Udyog Aadhar फॉर्म भरने के लिए आवश्यक दिशानिर्देश इस प्रकार है – कृपया पढ़े : –
1. EM- I को समाप्त कर दिया गया है। उद्योग आधार के माध्यम से फाइल करने की आवश्यकता नहीं है।
2.  उद्योग आधार वर्तमान में चल रहे  इकाइयों  के लिए है। आगामी इकाइयों के लिए आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
3. नई सुविधा एनआईसी कोड एनआईसी गतिविधियों के 3 चरण चयन से बचने के लिए एनआईसी कोड सुविधा जोड़ा गया।
4. पंजीकरण के समय मोबाइल पर OTP ओटीपी (आधार के साथ जुड़ा हुआ) लागू किया गया है।
Udyog Aadhar form भरने  के लिए आप निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे – https://udyogaadhaar.gov.in/UA/UAM_Registration.aspx
लेकिन फॉर्म भरने से पूर्व सभी जानकारी जरूर पढ़ ले –
1. आधार संख्या – आवेदक अपना स्वयं 12 अंकों का आधार नंबर पहले आधार संख्या  बॉक्स में भरे –
2. स्वामी का नाम– आवेदक को अपना नाम सही  से भरना चाहिए जैसा कि  यूआईडीएआई द्वारा जारी आधार कार्ड पर उल्लिखित है। जैसे यदि तृषा सोनकर का नाम कुमारी तृषा सोनकर है, तो उसी के अनुसार भरना चाहिए यदि नाम आधार संख्या के साथ मेल नहीं खाता है, तो आवेदक आगे फार्म नहीं भर पाएगा।
आधार को सत्यापित करने के लिए: –
Validate Aadhar– आधार के सत्यापन के लिए आवेदक को Validate Aadhaar बटन पर क्लिक करना होगा, उसके बाद ही उपयोगकर्ता आगे फॉर्म भर सकता है।
इसके बाद Validate Aadhaar बटन पर क्लिक करते ही आपके आधार में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP पासवर्ड आएगा उसे बॉक्स में भरकर Validate  बटन पर क्लिक करे।
    यदि आपका मोबाइल नंबर UIDAI के साथ पंजीकृत नहीं है, तो कृपया पॉप अप विंडो पर दिए गए निर्देशों का पालन करें।
Reset- आवेदक आधार नंबर और विभिन्न आधार के लिए मालिक के नाम को हटाने के लिए रीसेट बटन पर क्लिक कर सकता है।
 
3. सामाजिक श्रेणी आवेदक सामाजिक श्रेणी (सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति या अन्य पिछड़ी जाति (ओबीसी) का चयन कर सकता है।

4. लिंग- आवेदक उद्यमी के लिंग का चयन कर सकता है

ये भी जाने :- व्यवसाय व्यापार में प्रयोग होने वाले शब्द जो हमरे लेन देनो में प्रयोग होते है साथ ही अपने एकाउंटिंग कार्य भी आप स्वयं करें।


5. शारीरिक रूप से विकलांग- आवेदक उद्यमी की शारीरिक रूप से विकलांग स्थिति का चयन कर सकता है

6. एंटरप्राइज या उद्यम का नाम– आवेदक को वह नाम भरना होगा जिसके द्वारा उसका एंटरप्राइज या उद्यम व्यवसाय संचालित है, और एक आवेदक के पास व्यवसाय करने वाले एक से अधिक उद्यम हो सकते हैं और प्रत्येक को एक अलग उद्योग के लिए पंजीकृत किया जा सकता है।


7. संगठन का प्रकार– आवेदक दी गई सूची में से अपने उद्यम के लिए उपयुक्त प्रकार के संगठन का चयन कर सकता है। आवेदक को यह सुनिश्चित करना होगा कि वह इस ऑनलाइन फॉर्म को भरने के लिए कानूनी इकाई (उद्योग आधार के लिए पंजीकृत किया जा रहा उद्यम) द्वारा अधिकृत है। प्रत्येक उद्यम के लिए केवल एक उद्योग आधार संख्या जारी की जाएगी।

जैसे – Proprietorship Firm, Self Help Group, Priviate Limited, Public, Limited, Society, Tust, Co-operative, HUF and Partnership Firm etc.
 
8. पैन नंबर – को-ऑपरेटिव, प्राइवेट लिमिटेड, पब्लिक लिमिटेड और लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप इट के मामले में आवेदक को पैन नंबर डालना होगा।
 
9. प्लांट का स्थान- आवेदक एक प्लांट बटन पर क्लिक करके एक पंजीकरण में कई प्लांट लोकेशन जोड़ सकता है।

10. आधिकारिक पता-
आवेदक को राज्य, जिला, पिन कोड, मोबाइल नंबर और ईमेल सहित एंटरप्राइज का पूरा डाक पता उपयुक्त क्षेत्र में भरना चाहिए।
Udyog aadhar

11. कमीशन की तारीख– अतीत में वह तारीख जिस पर कारोबारी इकाई ने अपना परिचालन शुरू किया था वह उपयुक्त क्षेत्र में भरी जा सकती है।


12. पिछला पंजीकरण विवरण (यदि कोई हो) – यदि आवेदक का उद्यम, जिसके लिए उद्योग आधार लागू किया जा रहा है, तो पहले से ही संबंधित जीएम (डीआईसी) द्वारा एमएसएमईडी अधिनियम 2006 या एसएसआई के अनुसार वैध ईएम-आई / II जारी किया जाता है। उक्त अधिनियम से पहले प्रचलित पंजीकरण, उचित स्थान पर ऐसी संख्या का उल्लेख किया जा सकता है।
13. बैंक विवरण– आवेदक को उचित स्थान पर उद्यम चलाने के लिए उपयोग किए गए बैंक खाते की संख्या प्रदान करनी चाहिए। आवेदक को बैंक की शाखा का आईएफएस कोड भी देना होगा जहां उसका उल्लेखित खाता मौजूद है। IFS कोड अब बैंक द्वारा जारी किए गए चेक बुक्स पर छपा हुआ है। वैकल्पिक रूप से, यदि आवेदक को बैंक और उस शाखा का नाम पता है जहां उसका खाता है, तो संबंधित बैंक की वेबसाइट से IFSC कोड पाया जा सकता है।

14. प्रमुख गतिविधि– प्रमुख गतिविधि यानि “विनिर्माण” या “सेवा” को उद्योग द्वारा आधार के लिए चुना जा सकता है। यदि आपके उद्यम में दोनों प्रकार की गतिविधियाँ शामिल हैं और यदि प्रमुख कार्य में विनिर्माण क्षेत्र शामिल है और गतिविधि के छोटे हिस्से में सेवा क्षेत्र शामिल है, तो “विनिर्माण” के रूप में अपने प्रमुख गतिविधि प्रकार का चयन करें और यदि प्रमुख कार्य सेवाओं में शामिल हैं और गतिविधि के छोटे हिस्से में विनिर्माण शामिल है फिर “सेवा” के रूप में अपने प्रमुख गतिविधि प्रकार का चयन करें

15. राष्ट्रीय उद्योग वर्गीकरण कोड (एनआईसी कोड) – आवेदक अपनी सभी गतिविधियों को शामिल करने के लिए कई राष्ट्रीय औद्योगिक वर्गीकरण -2008 (एनआईसी) कोड चुन सकता है। जिसका अर्थ है कि उपयोगकर्ता “अधिक जोड़ें” बटन पर क्लिक करके विनिर्माण और सेवा क्षेत्र के कई एनआईसी कोड का चयन कर सकता है। यदि आप विनिर्माण जोड़ना चाहते हैं तो “विनिर्माण” रेडियोबॉटन का चयन करें और “और अधिक जोड़ें” बटन पर क्लिक करके रखें अन्यथा यदि आप जोड़ना चाहते हैं सेवा तब “सेवा” रेडियोबॉटन का चयन करें और “अधिक जोड़ें” बटन पर क्लिक करके जोड़ते रहें। एनआईसी कोड सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय, भारत सरकार के तहत केंद्रीय सांख्यिकी संगठन (सीएसओ) द्वारा तैयार किए जाते हैं।

16. व्यक्ति नियोजित उद्यम द्वारा सीधे वेतन / मजदूरी का भुगतान करने वाले लोगों की कुल संख्या का उल्लेख उपयुक्त क्षेत्र में किया जा सकता है।

17. संयंत्र और मशीनरी / उपकरण में पुनर्निवेश
– कुल निवेश की गणना करते समय, मूल निवेश (वस्तुओं की खरीद मूल्य) को प्रदूषण नियंत्रण, अनुसंधान और विकास, औद्योगिक सुरक्षा उपकरणों, और इस तरह के अन्य मदों की लागत को छोड़कर ध्यान में रखा जाना चाहिए। जैसा कि आरबीआई की अधिसूचना द्वारा निर्दिष्ट किया जा सकता है। यदि एक उद्यम 2008 में खरीदे गए संयंत्र और मशीनरी के एक सेट के साथ शुरू हुआ, जिसकी कीमत रु। 70.00 लाख ने वर्ष 2013 में रु। के अतिरिक्त संयंत्र और मशीनरी की खरीद की है। 65.00 लाख, तब प्लांट और मशीनरी में कुल निवेश रु। 135.00 लाख।

18. डीआईसी- एंटरप्राइज के स्थान के आधार पर आवेदक को डीआईसी के स्थान को भरना होगा। यह कॉलम सक्रिय होगा और केवल तभी विकल्प दिखाई देगा जब जिले में एक से अधिक डीआईसी हों। वास्तव में अगर जिला प्रणाली में केवल एक ही डीआईसी है, तो आप स्वयं को उसी डीआईसी में पंजीकृत करेंगे।

19. सबमिट करें– आवेदक को ओटीपी जनरेट करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा जो पंजीकरण के लिए उल्लिखित ईमेल आईडी पर भेजा जाएगा।

20. आवेदक को दूसरी बार मोबाइल पर प्राप्त ओटीपी (आधार से लिंक) दर्ज करना होगा।

21. Enter Captcha– फाइनल सबमिट बटन पर क्लिक करने से पहले आवेदक को कैप्चा दर्ज करना होगा।

 

उद्योग आधार फॉर्म हिंदी में डाउनलोड करे – नीचे  क्लिक करे

Aadhaar Udyog Hindi Form Download

उद्योग आधार फॉर्म अंग्रेजी में डाउनलोड करे – नीचे  क्लिक करे

Udyog Aadhaar English Form Download Here

उद्योग आधार भरे हुए आवेदन  फॉर्म डाउनलोड  करे – नीचे  क्लिक करे

Udyog Aadhaar Application Print

उद्योग आधार भरे हुए पावती  डाउनलोड  करे – नीचे  क्लिक करे

 
udyog aadhaar update –
उद्योग आधार सुधार करने के लिए – नीचे  क्लिक करे

Udyog Aadhaar Update Here

निष्कर्ष –

उद्योग आधार निः शुल्क MSME द्वारा दिया जा रहा है किसी भी दूसरे व्यक्ति के झांसा में ना ये बुल्कुल मुफ्त है आप स्वयं ऊपर  बातये गए प्रक्रिया अनुसार उद्योग आधार बना सकते है और केवल जो व्यवसाय संचालित है उसी का रजिस्ट्रेशन करें। अपने आधार कार्ड व बैंक की जानकारी कभी भी दुसरो को न बताये सावधान रहे सतर्क रहे।

अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे

Leave a Comment