ledger क्या है और ledger का निर्माण टैली में कैसे किया जाता है सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.

What is Ledger and how to create in tally?

Ledger Creation Tally Hindi – Account / Ledger / खाता :-  लेजर या खाता एक तालिका है जिसमे सोैदा  उनके स्वभाव के अनुसार वर्गीकृत करके एक र्शीषक के अंतर्गत एक स्थान पर क्रम से लिखा जाता है सरल शब्दो में किसी व्यक्ति, सम्पत्ति तथा आय-व्यय आदि से  संबधित लेखो को छांटकर जो सूची बनाई जाती है उसे खाता या लेजर है।

    Account शब्द का अंग्रेजी में संक्षिप्त रूप में A/c  होता है। लेखो में प्रायः इस संक्षिप्त रूप का ही प्रयोग होता है और प्रत्येक खाता दो पक्षों में विभाजित रहता है। बाये पक्ष को नामे Debit और दाहिने पक्ष को Credit कहते है  टैली में लेजर या खाता बनाना (): –

  टैली  में लेजर बनाने के लिए निम्नलिखित स्टेप का पालन करते है –

  1. Gateway of Tally
  2. Accounts Info
  3. Ledgers
  4. Create

इन स्टेप का पालन करने पर इसका डायलॉग बॉक्स दिखाई देता है  

ledger

  टैली में हम दो प्रकार से खाता निर्माण कर सकते है  – Ledger Creation Tally Hindi

1. Single Ledger  

2.  Multipal  Ledger  

क्या आप लेजर Under Group के बारे में जानते हैं जो की लेजर बनाने के लिए अति आवश्यक है, आपको लेजर का अंडर ग्रुप ज्ञान होना अति आवश्यक है बिना अंडर लेजर ग्रुप के हम ledger नहीं बना पाएंगे –

√ लेजर अंडर ग्रुप क्या है और इसके लिस्ट उदाहरण सहित|

 
1. Single Ledger –

इस ऑप्शन के माध्यम से एक बार में केवल एक ही खाता निर्माण कर सकते है

ledger creation 2
  • single ledger creation screen में सबसे पहले लेजर का नाम एंट्री करे।
  • अब लेजर का under group एंट्री करे जैसे SBI Bank a/c का under group Bank Accounts होगा,उसी Purchase A/c – Purchase account , Salary a/c – indirect expenses, GST A/c – Duties & Taxes होगा।
  • अब mailing Details भरें।
  • Ctrl+A button press करके सेव कर ले।
  • इस प्रकार हम टैली में लेजर क्रिएट कर सकते है।

  2 . Multipal  Ledger – Ledger Creation Tally Hindi

इस ऑप्शन के माध्यम से एक बार में  एक से अधिक  खातों  निर्माण कर सकते है

ledger creation 3

टैली में लेजर बनाने के बाद हमें निम्नलिखित कार्य करने होते हैं जिसके माध्यम से हम वाउचर एंट्री कर पाएंगे –

टैली में स्टॉक आइटम कैसे बनाएं

टैली में स्टॉक केटेगरी कैसे बनाएं

टैली में यूनिट कैसे बनाएं|

Purchase Entry कैसे करें with GST।

टैली हम कैसे सीख सकते है

दोस्तों अगर आपको टैली सीखना है तो पहले सामान्य एकाउंटिंग या कॉमर्स के बारे में जानना होगा क्योकि एकाउंटिंग में अलग अलग प्रकार के सब्दो का प्रयोग किया जाता है जैसे गुड्स, परचेस, सेल्स, डेबिट, क्रेडिट, एक्सपेंस एसेट्स इत्यादि इशलिए नीचे दिए हुए प्रोसेस के अनुसार स्किल ज्ञान ले जिससे आपको टैली का ज्ञान आसानी से हो सके.. 

दोस्तों अगर आपको यह जानकारी अच्छा लगा तो नीचे कमेंट करके जरूर बताएं अगर कोई सजेशन है कोई क्वेश्चन हो तो कृपया कमेंट करें और आप इसे अपने व्हाट्सएप ग्रुप फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी शेयर कर सकते हैं

S.No.Subject / Topic (Tally Full Course in Hindi)
1Tally क्या है टैली के विभिन version?
What is tally and Version of Tally?
How to use Tally ERP 9?
3Downloading and Installation of Tally ERP 9 Notes
Tally Full Form क्या है?
4Basic Accounting Terms – Tally ERP 9
5How to Create Company in Tally ERP 9 Notes
Delete Company, Alter Company और Select Company
6What is Ledger and how to create in tally Tally ERP 9 Notes?
7टैली में ledger group क्या है एवं टैली में group कैसे तैयार करे सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.
8Mode of Accounting – Tally ERP 9 Notes / Prime (Tally Full Course in hindi)
9Basic Accounting – Personal A/C, Real A/c, Nominal A/c
10Golden Rules of Accounting – Basic Accouting की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.
11Accounting Vouchers in Tally ERP 9 Notes
>>Contra Entry in Tally
>>Receipt Voucher Entry in Tally
>>Payment Voucher Entry in Tally
>>Journal Voucher Entry in Tally
>>Purchase Voucher Entry in Tally with GST
>>Sales Entry in Tally with GST
>>Debit Note Entry in Tally with GST
>>Credit Note Entry in Tally with GST
12Inventory Voucher – Tally ERP 9 Notes
13Golden Rules of Voucher Entry
14Stock Management  or Inventory Management – Tally ERP 9 Notes
15Tax Management in Tally — Tally ERP 9 Notes –
GST Goods and Service Tax (गुड्स एवं सर्विस टैक्स)
16Tally Shortcut Keys – Tally ERP 9 Notes (Tally Full Course in hindi)
17Reports – Profit & Loss A/C, Balance Sheet, Stock, Trial Balance sheet
18Backup and Restore in tally ERP 9 Notes in hindi – Tally Prime
19Printing in tally – Print Setup
20Setting in tally – F11 and F12
21Provision (प्रावधान) क्या है?,Provision एंट्री टैली में कैसे किया जाता है।
22Bank Reconcilition क्या है और टैली में बैंक समाधान विवरण कैसे करते है।
23Payroll (पेरोल) क्या है और टैली में कैसे बनाये?
24POS क्या है और टैली में POS Invoice कैसे बनाये?
25Tally erp 9 Practice Book pdf free Download hindi
Tally full course

Leave a Comment