Payroll in Tally ERP 9 in Hindi PDF | Payroll example in Tally Prime

वर्तमान परिवेश Digital युग है जिसमें हमें कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए हमारे सभी कार्यों को डिजिटल रूप में करना अनिवार्य है, जिस प्रकार हम पूर्व में Accounting को मैनुअल पद्धति पुस्तकों के माध्यम से करते थे जिसकी स्थान पर अब हम टैली का उपयोग कर रहे है जिसके माध्यम से हम डिजिटल रूप में अपने संस्था के Financial Transaction को Recrod करके रखते हैं. Tally में कार्य करना आसान है लेकिन इसके लिए पर्याप्त ज्ञान का होना आवश्यक है तभी हम एक सफल Accountant बन पाएंगे तो चलिए आज हम आपको टैली का उपयोग करके डिजिटल रूप में अपने संस्था में कार्यरत कर्मचारी, अधिकारी एवं मजदूरों को Payroll तैयार करने के साथ-साथ आपको what is payroll in tally, Payroll in Tally, Payroll in Tally ERP 9 in Hindi, payroll entry in tally, payroll example in tally, payroll questions in tally, payroll accounting in tally, payroll in tally erp 9 pdf, payroll meaning in hindi का जानकारी देने जा रहे हैं.

Payroll in Tally ERP 9 in hindi
Payroll in Tally ERP 9 in hindi

Payroll क्या है

Payroll क्या हैPayroll एक Process है जिसके माध्यम से किसी संस्था या कंपनी में कार्यरत कर्मचारियों को प्रतिमाह दिए जाने वाले वेतन, मजदूरी एवं बोनस की गणना व रिकॉर्ड कर भुगतान करने के लिए किया जाता है.

What is Payroll in Tally

What is Payroll in Tally : Payroll एक सिस्टम है जिसके माध्यम से किसी भी संस्था कंपनी यह विभाग कर्मचारियों को दी जाने वाली Salary व अन्य भुगतान हेतु अटेंडेंस तैयार करना, Pay Head तैयार करना, Employee Groups तैयार करना, Salary Details आदि की जानकारी Record कर प्रत्येक Month संस्था या कंपनी में कार्यरत Employee को Salary अन्य भुगतान करने हेतु Payroll का उपयोग किया जाता है.

Payroll in Tally erp 9 in hindi में Payroll को कैसे एक्टिवेट करें

Tally ERP 9 & Tally Prime में Payroll को एक्टिवेट करने के लिए हमें निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करने होंगे तो चलिए Step by Step Payroll Activation या Enable करने की विधि की जानकारी लेते हैं –

1) F11 Features को Select करें

2) Maintain Payroll को Yes करें

Payroll in Tally
Maintain Payroll – Yes

3) Ctrl+A Press करके Save करें

इस प्रकार पूरी प्रक्रिया को करने के बाद पेरोल Activation या Enable हो जाएगा एक्टिवेट होते ही हमें गेटवे ऑफ़ टैली के अंतर्गत Inventory Info के अंतर्गत Payroll का ऑप्शन दिखाई देगा

Payroll in Tally
Payroll in Tally

Payroll in Tally erp 9 in hindi

Tally Payroll में Entry करने से पहले हमें कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों को जानकारी होना बहुत जरूरी है जिसके माध्यम से हम सही तरीके से पेरोल में एंट्री कर पाएंगे तो चले चलते हैं कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों को जानकारी प्राप्त करते हैं –

1) Salary Details

किसी भी कंपनी या संस्था में कार्यरत कर्मचारियों को Salary Payment हेतु Payroll तैयार किया जाता है लेकिन Salary विभिन्न मद से मिलकर बना होता है जैसे –

  • Basic Salary
  • DA (Dearness Allowance)महंगाई भत्ता यह सुविधा है जो कि कंपनी द्वारा अपने कर्मचारियों को दिया जाता है, DA (Dearness Allowance) मुख्य रूप से बेसिक सैलरी में जोड़ा जाता है.
  • HRA (Home Rent Allowance)किराया भत्ता यह सुविधा है जो कि कंपनी द्वारा अपने कर्मचारियों को दिया जाता है, इसे बेसिक सैलरी में जोड़ा जाता है.
  • TA (Trawling Allowance) – यह एक प्रकार का यात्रा भत्ता होता है जिसे बेसिक सैलरी में जोड़ा जाता है.
  • EPF (Employee Provident Fund) – कर्मचारी भविष्य निधि जिसे हमारे बेसिक सैलरी से घटाया जाता है क्योंकि आप ऐसा हमारे एम्पलाई प्रोविडेंट फंड अकाउंट में जाकर जमा होता है जो कि बाद में हमें प्राप्त होगा.
  • Insurance – इसे हमारे बेसिक सैलरी में घटाया जाता है.
  • Loan – अगर कर्मचारी अपने कंपनियां संस्था से उधार राशि लोन प्राप्त किया है तो उसकी कि निश्चित राशि प्रतिमाह बेसिक सैलरी से घटाया जाता है.

टैली में पैरोल तैयार करते समय हमें इन ऊपर दिए गए सभी सुविधाओं का सैलरी के अंतर्गत शामिल करना होता है जिससे हमारा कर्मचारियों को दिए जाने वाला सुविधाएं प्लस बेसिक सैलरी मिल कर एवं अन्य कटौती यों को काटकर Net Salary तैयार होता है.

2) Units (माप की इकाई)

Payroll में कर्मचारियों की प्रतिदिन की उपस्थिति को हम दिन और समय के हिसाब से मापते है जिसके माध्यम से उनका सैलेरी पेमेंट किया जाता है तो इसके लिए हमें Payroll में Units का विकल्प दिखाई देगा जिसके माध्यम से हम दिन और समय को निर्धारित कर सकते हैं जैसे कि किसी भी कर्मचारी का एक दिन उपस्थिति अर्थात 8 घंटे मान सकते हैं उसी प्रकार से हम Payroll हेतु Unit तैयार करेंगे.

3) Attendance Type

जैसे कि हम सभी को पता है कि कोई भी व्यक्ति की उपस्थिति के हिसाब से सैलरी का भुगतान किया जाता है उसी प्रकार पैरोल में भी कर्मचारियों की उपस्थिति हेतु अटेंडेंस रजिस्टर तैयार किया जाता है, जिसमें हम अब्सेंट, प्रजेंट, ओवरटाइम और सिक लीव शामिल करके अटेंडेंस रजिस्टर तैयार कर सकते हैं जिसके अनुसार से कर्मचारियों को भुगतान किया जा सके.

  1. Absent – Days Leave without Pay
  2. Present – Days Attendance with pay
  3. Sick Leave – Attendance with pay
  4. Over Time – Hr of 60 min
  5. Emergency Leave

4) Pay Heads

विभिन्न प्रकार के भुगतान हेतु अकाउंट्स तैयार करना होता है जिसके द्वारा कर्मचारियों को भुगतान किया जाता है-

  • Basic Salary
  • DA (Dearness Allowance)
  • HRA (Home Rent Allowance)
  • TA (Trawling Allowance)
  • EPF (Employee Provident Fund)
  • Insurance
  • Loan

5) Employee Groups

Payroll in Tally (Tally Payroll) मैं सैलेरी पेमेंट है तू हमें कर्मचारियों का ग्रुप तैयार करना होता है जिनके अनुसार से उनका वेतन और अन्य सुविधाएं निर्धारित किया जाता है जैसे की हम सब जानते हैं कि किसी कंपनी में कार्यरत विभिन्न प्रकार की कर्मचारी होते हैं जो कि अलग-अलग ग्रेड के होते हैं जिनके अनुसार उन्हें सैलरी प्राप्त होता है.

Example : – उदाहरण के लिए हम College का कर्मचारियों का Employee Group तैयार कर रहे हैं.
1. Faculty – Grade A
2. Office Assistant – Grade B
3. Peon – Grade C

6) Employee List

पेरोल टैली में एंट्री करने के लिए अंत में हमें अपने संस्था में कार्यरत सभी कर्मचारियों का लिस्ट तैयार करना होगा जिनके माध्यम से उन्हें भुगतान किया जा सके –

Mr. R.K. Sonkar – Faculty
Mr. B. Gajendra – Faculty
Mr. Ramswarup- Office Assistant
Mr. D Sahu – Office Assistant Sahu
Mr. Ram k Sahu – Peon
Mr. Dw Sahu – Peon

Payroll accounting in tally with Payroll Example in Tally

Payroll accounting in tally with Payroll Example in Tally Step by Step

1) Goto Payroll Info

सबसे पहले Payroll Management को F11 Features में जाकर Yes करें, अब Activate / Enable करने के बाद हमें गेटवे ऑफ़ टैली के अंतर्गत Payroll Info दिखाई देगा जिसे सेलेक्ट करें.

Example : F11 Features >> Payroll Managment >> Yes : Gateway of Tally >> Payroll Info

Payroll Info

2) Create Employee Group : Payroll in Tally

Payroll in tally के लिए सबसे पहले हमें एंप्लॉय ग्रुप तैयार करना होगा, जिस पर हमें अपने कंपनी और संस्था के अनुसार तैयार करना होगा जैसे –

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Employee Groups

Create Employee Group : Payroll Tally

Gateway of Tally >> Payroll Infor >> Employee Groups >> Create

Create Employee Group

Example : – उदाहरण के लिए हम College का कर्मचारियों का Employee Group तैयार कर रहे हैं.
1. Faculty
2. Office Assistant
3. Peon

3) Create Employee List

अब हमें Payroll tally के लिए हमारे कंपनी में कार्यरत कर्मचारियों की सूची तैयार करना होगा.

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Employees

Create Employee List
Create Employee List

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Employees >> Create

Create Employee List
Employee Creation : Payroll Tally

4) Create Units : Payroll in Tally

अब Payroll tally के लिए माफ की इकाई तैयार करना होगा जिससे कि कर्मचारियों के उपस्थिति, ओवरटाइम को निर्धारित किया जा सके.

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Units (Work) >> Create

unit creation

5) Create Attendance Register

इस स्टेप पर हमें अपने कर्मचारियों के लिए अटेंडेंस रजिस्टर तैयार करना होगा. जैसे –

  • Absent – Days Leave without Pay
  • Present – Days Attendance with pay
  • Sick Leave – Attendance with pay
  • Over Time – Hr of 60 min
  • Emergency Leave

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Attendance / Production Type >> Create

Create Attendance Register
Create Attendance Register

6) Create Pay Heads

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Pay Heads >> Create

  • Basic Salary
  • DA (Dearness Allowance) – Earning for Employee
  • HRA (Home Rent Allowance) – Earning for Employee
  • TA (Trawling Allowance) – Earning for Employee
  • EPF (Employee Provident Fund) -Deduction for Employee
  • Insurance – Deduction for Employee
  • Loan – Deduction for Employee
Payroll in Tally
Pay Heads

7) Create Salary Details : Payroll in Tally

यहां पर हमें सभी कर्मचारियों का दी जाने वाली बेसिक सैलरी और अन्य सुविधाओं का विवरण डालना चाहिए.

Gateway of Tally >> Payroll Info >> Salary Details >> Define

Payroll in Tally
Payrol Tally : Salary Details

8) Create Salary Payable Ledger

अब हमें सैलरी भुगतान हेतु Salary Payable Ledger बनाना पड़ेगा जिसके माध्यम से हमें सैलरी का भुगतान करना है इसके अलावा आप Cash Account और Bank Account के माध्यम से भी भुगतान कर सकते हैं.

9) Goto Payroll Voucher

अब हमें पेरोल वाउचर पर जाना होगा जिससे आगे की प्रक्रिया किया जा सके जिसमें हमें इस वाउचर के अंतर्गत ऑटोफिल अटेंडेंस और ऑटो पेरोल का ऑप्शन उपलब्ध होगा.

10) Mark Attendacne / Auto Fill Attendance

पेरोल टैली में ऑटोमेटिक अटेंडेंस की सुविधा प्रदान करता है साथ ही आप अपने हिसाब से अटेंडेंस मार्ग कर सकते हैं, याद रखें अटेंडेंस डालने के बाद ही आप का भुगतान होगा इसलिए आप अपने आवश्यकतानुसार अब्सेंट, प्रेजेंट और अन्य उपस्थिति दर्ज करें.

Gateway of Tally >> Payroll Voucher >> Auto Fill Attendance

Payroll in Tally
Payroll in Tally

11) Auto Payroll : Payroll in Tally

इस विकल्प के द्वारा हम टैली पेरोल में ऑटोमेटिक पैरोल का ऑप्शन उपलब्ध कराता है जिसमें हमें वेतन भुगतान मंथ का अवधि सेलेक्ट करना है जिसके बाद हमें हमारे कर्मचारियों का वेतन भुगतान वाउचर दिखाई देगा.

Gateway of Tally >> Payroll Voucher >> Auto Fill Payroll

Payroll in Tally
Payroll in Tally

12) Payroll in Tally

इन सभी प्रक्रियाओं को स्टेप बाय स्टेप करने के बाद हमें अंत में ऑटोमेटिक इस प्रकार से पेरोल वाउचर दिखाई देगा, इसमें आपको हमारे जितने भी कर्मचारी हैं उनका वेतन भुगतान ऑटोमेटिक पैरोल के माध्यम से आपको दिखाई देगा तभी आपका पैरोल Successful होगा.

Payroll in Tally
Payroll in Tally

दोस्तों आपको यह Tally Payroll जानकारी कैसा लगा, आप हमें निचे कमेंट करके जरुर बताये और आप हमारे वेबसाइट को Home पेज में जा कर सब्सक्राइब कर सकते है और आप हमारे Telegram Channel में भी जुड़े जिससे आपको लेटेस्ट Notification मिलता रहेगा साथ ही साथ आप इसे WhatsApp, Facebook सोशल मीडिया प्लेटफार्म में शेयर कर सकते है.

S.No.Subject / Topic
1Tally क्या है टैली के विभिन version?
What is tally and Version of Tally?

How to use Tally ERP 9?
3Downloading and Installation of Tally ERP 9 Notes
4Basic Accounting Terms – Tally ERP 9
5How to Create Company in Tally ERP 9 Notes
Delete Company, Alter Company और Select Company
6What is Ledger and how to create in tally Tally ERP 9 Notes?
7टैली में ledger group क्या है एवं टैली में group कैसे तैयार करे सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.
8Mode of Accounting – Tally ERP 9 Notes / Prime
9Basic Accounting – Personal A/C, Real A/c, Nominal A/c
10Golden Rules of Accounting – Basic Accouting की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में.
11Accounting Vouchers in Tally ERP 9 Notes
12Inventory Voucher – Tally ERP 9 Notes
13Golden Rules of Voucher Entry
14Stock Management  or Inventory Management – Tally ERP 9 Notes
15Tax Management in Tally — Tally ERP 9 Notes –
GST Goods and Service Tax (गुड्स एवं सर्विस टैक्स)
16Tally Shortcut Keys – Tally ERP 9 Notes
17Reports – Profit & Loss A/C, Balance Sheet, Stock, Trial Balance sheet, DayBook
18Backup and Restore in tally ERP 9 Notes in hindi – Tally Prime
19Printing in tally – Print Setup
20Setting in tally – F11 and F12
21Provision क्या है, Provision Entry in Tally.
22Tally erp 9 Practice Book pdf free Download hindi
10

दोस्तों आपको यह जानकारी कैसा लगा, आप हमें निचे कमेंट करके जरुर बताये और आप हमारे वेबसाइट को Home पेज में जा कर सब्सक्राइब कर सकते है और आप हमारे Telegram Channel में भी जुड़े जिससे आपको लेटेस्ट Notification मिलता रहेगा साथ ही साथ आप इसे WhatsApp, Facebook सोशल मीडिया प्लेटफार्म में शेयर कर सकते है.

Leave a Comment